नई पोस्ट करें

करीब 3 दशक बाद खुली कश्मीर की सबसे पुरानी सिल्क फैक्ट्री

2022-10-07 01:13:35 754

करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्रीHimachal Pradesh: हिमाचल में एंट्री करनी है तो 16 अप्रैल से कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना होगा****** हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने रविवार को कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर प्रदेशवासियों से अपील करते हुए कहा कि उन राज्यों से आने वाले सभी लोगों के लिए एक एडवाइजरी जारी की गई है जो ज्यादा कोरोना संक्रमण वाले राज्यों से आ रहे हैं वो अपने पिछले 72 घंटे की आरटी-पीसीआर रिपोर्ट के साथ ही राज्य में प्रवेश करें। सीएम जयराम ठाकुर ने ये जानकारी एक ट्वीट के जरिए दी है।साथ ही सीएम ने लोगों से मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की भी अपील की है। अनावश्यक रूप से भीड़ वाली जगहों पर जाने से परहेज करना चाहिए। सीएम ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के स्कूल कॉलेज 21 अप्रैल तक बंद रहेंगे। साथ ही शादियों में गाइडलाइंस का पालन करें साथ ही नवरात्र में भी सावधानी बरतें।देश में कोविड-19 मामलों में बढ़ोतरी के बीच हिमाचल प्रदेश ने रविवार को 16 अप्रैल से सात अधिकतम कोरोना मामलों वाले राज्यों से आने वाले लोगों को प्रवेश के लिए 72 घंटों के भीतर कराए गए आरटी-पीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य कर दिया है। अधिकतम मामलों वाले राज्य पंजाब, दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक, राजस्थान और उत्तर प्रदेश हैं।उन्होंने कहा, "अभी के लिए , सरकार ने पर्यटकों को राज्य में आने की अनुमति देने का फैसला किया है, लेकिन साथ ही, होटल मालिकों और पर्यटकों को सरकार द्वारा जारी मानक संचालन प्रक्रियाओं का सख्ती से पालन करने के लिए कहा है।"माइक्रो कंटेनमेंट जोन की प्रभावी निगरानी के साथ टेस्टिंग, ट्रेसिंग और ट्रीटमेंट की रणनीति पर जोर देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 70 प्रतिशत परीक्षणों के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए आरटी-पीसीआर परीक्षणों पर भी अधिक जोर दिया जाना चाहिए।उन्होंने कहा कि किसी भी घटना को पूरा करने के लिए राज्य के स्वास्थ्य विभाग को भी बिस्तर की क्षमता बढ़ाने के लिए कदम उठाने चाहिए। इसके अलावा, यह टीका का न्यूनतम अपव्यय सुनिश्चित करना चाहिए। पिछले 45 दिनों के दौरान, राज्य ने कोरोना के कुल 10,690 नए मामले सामने आए हैं, जबकि इस दौरान 120 लोगों की मौत हुई हैं। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि बसों और सार्वजनिक परिवहन वाहनों में अधिक भीड़ नहीं होने दी जाएगी।

करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्रीUttar Pradesh: यूपी में हुई चौंकाने वाली घटना, ठेकेदार ने बकाया पैसे मांगने पर मजदूर की काटी नाक******उत्तर प्रदेश के जालौन से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है।जालौन में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां मजदूरी के रुपयेमांगना एक मजदूर को भारी पड़ गया।जब मजदूर ने अपनी मजदूरी के बकाया पैसे मांगे तो ठेकेदार ने कथित तौर पर एक मजदूर की नाक पर चाकू से वार कर दिया। पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है, जबकि आरोपी अब फरार है। 50 वर्षीय पीड़ित जन्मेश का फिलहाल जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।पुलिस शिकायत में, जन्मेश ने आरोप लगाया कि 35 वर्षीय लालू ने उसे उसके खेत में काम करने के लिए काम पर रखा था। जन्मेश ने कहा, "काम करने के बाद जब मैंने लालू से 2,000 रुपये वेतन देने को कहा, तो उन्होंने मेरे साथ तीखी बहस की।" जन्मेश ने आगे आरोप लगाया कि जब उन्होंने इसका विरोध किया तो लालू ने उन्हें जमीन पर धकेल दिया और नीचे गिरा दिया।पीड़ित ने कहा, "जब मैंने शोर मचाया तो उसने चाकू उठाया और मेरी नाक काट दी। इसके बाद उसने मुझे गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी।" जालौन के पुलिस अधीक्षक (एसपी) रवि कुमार ने कहा, "हमने मामले को गंभीरता से लिया है और जांच शुरू कर दी गई है। फरार आरोपी के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। उसे जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।"मजदूर का कहना है कि उसने मजदूरी मांगी तो ठेकेदार आग बबूला हो गया और गुस्सा होकर उसके साथ मारपीट शुरू कर दी। इसके बाद उसकी नाक काट दी।कुछ महीने पहले राजस्थान के महवा में जान से मारने की नीयत से शराबी ने अपनी ही पत्नी की नाक काट दी। पुलिस ने बताया था कि मान सिंह पुत्र सौदान सिंह ने मामला दर्ज करवाया कि देर रात पास में रह रही भतीजी रेखा के चिल्लाने की आवाज आई। वहां जाकर देखा तो रेखा के पति सिकंदर ने उसकी नाक काट दी और जान से मारने के लिए उसका गला दबा रखा था।इसी दौरान रेखा लहूलुहान हालत में बेसुध होकर गिर पड़ी। तब तक जाटव मोहल्ले के लोग भी एकत्रित हो गए जिन्हें देखकर सिकंदर वहां से भाग गया था। लहूलुहान हालत में रेखा को महवा के अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। जहां से उसे जयपुर रेफर कर दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया था।करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्रीTomato Price: टमाटर की महंगाई से किचन में हाहाकार, कीमतें 100 के पार, देखिए इन 10 शहरों में कहां पहुंचे दाम******Tomato PriceHighlightsमहंगाई की जब दौड़ लगी है तो टमाटर क्यों पीछे रहने वाला था। बीते एक महीने में टमाटर की कीमतें सरपट भागते हुए 100 रुपये के पार भी निकल चुकी हैं। उत्तर भारत को छोड़ दें तो पूर्वी, पश्चिमी, दक्षिणी और मध्य भारत में टमाटर की कीमतें सुर्ख हो रही हैं। दक्षिण और मध्य भारत में कीमतें 77 रुपये के पार निकल चुकी हैं। हालांकि दिल्ली और पश्चिमी यूपी में कीमतें अभी भी 30 से 40 रुपये के बीच हैं।देश भर टमाटर का औसत खुदरा मूल्य एक महीने में 77 प्रतिशत बढ़ चुका है। फिलहाल टमाटर का औसत मूल्य 52.30 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया, जो एक महीने पहले की अवधि में 29.5 रुपये प्रति किलोग्राम था। चार शहरों पोर्ट ब्लेयर, शिलांग, कोट्टायम, पठानमथिट्टा में टमाटर की खुदरा कीमतें 100 रुपये प्रति किलोग्राम से अधिक चल रही थीं। बिहार के भागलपुर में तो कीमतें 11 रुपये से बढ़कर 1 जून को 88 रुपये तक पहुंच गईं। मिर्जापुर में दाम 21 से बढ़कर 51 रुपये और छत्तीसगढ़ के दुर्ग में दाम 15 से बढ़कर 58 रुपये पहुंच गए हैं।प्रमुख उत्पादक राज्यों आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और महाराष्ट्र में खुदरा कीमतों में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है और विभिन्न शहरों में यह 50 रुपये से 100 रुपये प्रति किलोग्राम के बीच चल रही है। व्यापारियों और विशेषज्ञों ने खुदरा कीमतों में वृद्धि के लिए आंध्र प्रदेश और कर्नाटक जैसे प्रमुख उत्पादक राज्यों से आपूर्ति की संभावित कमी को जिम्मेदार ठहराया।खाद्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार टमाटर की संभावित कम आपूर्ति के कारण यह तेजी आई है। पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार में गर्मी के कारण टमाटर की फसल काफी खराब हुई है। जानकारों के मुताबिक झारखंड से जुलाई में नई फसल आने के बाद ही कीमतें कम होंगी

करीब 3 दशक बाद खुली कश्मीर की सबसे पुरानी सिल्क फैक्ट्री

करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्री83 Box Office Collection Day 3: रणवीर सिंह की फिल्म का वीकेंड पर भी कायम रहा जलवा, जानें अबतक की कमाई******Highlightsरणवीर सिंह की फिल्म '83' बंपर ओपनिंग के साथ बॉक्स ऑफिस पर शानदार परफॉर्म कर रही है। कबीर खान की फिल्म ने सिनेमाघरों में शुक्रवार, 24 दिसंबर को 12.64 करोड़ रुपये के साथ भारतीय बॉक्स ऑफिस पर अपना आगाज़ किया है। वहीं शनिवार को भी इस फिल्म ने 16 करोड़ रुपयों की कमाई की है। शुक्रवार के मुकाबले शनिवार को दर्शक ज्यादा संख्या में फिल्म को देखने सिनेमाघरों में पहुंचे। वहीं रविवार को फिल्म ने शनिवार के मुकाबले ज्यादा कलेक्शन किया। ऐसी उम्मीद की जा रही थी फिल्म वीकेंड पर ज्यादा कमाई करेगी लेकिन यह पिछले दिनों के मुकाबले ज्यादा कमाई करेंगी लेकिन अंतर ज्यादा नहीं दिखा। मगर फिर भी फिल्म का जलवा फैंस के बीच कामय रहा।रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण की स्पोर्ट्स ड्रामा '83', साल की सबसे मच अवेटेड फिल्मों में से एक रही है। क्रिटिक्स ही नहीं दर्शक भी फिल्म को पॉजिटिव रिव्यू दे रहे हैं। भारतीय बॉक्स ऑफिस कलेक्शन की बात करें तो फिल्म ने पहले दिन में '83' ने 12.64 करोड़ रुपये की कमाई की है। वहीं बॉक्स ऑफिस इंडिया की रिपोर्ट की मानें तो फिल्म ने शनिवार को शानदार कमाई करते हुए 16 करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया है। रविवार को फिल्म ने 17 करोड़ का कलेक्शन किया है।बॉक्स ऑफिस इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, "शुरुआती अनुमानों के अनुसार फिल्म '83' की ओपनिंग बंपर रही है। देश के अलग-अलग जगहों पर फिल्म को दर्शकों का मिला-जुला रिस्पॉन्स है क्योंकि कुछ बड़े शहरों में फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन किया है, जबकि अन्य क्षेत्रों में दर्शक थिएटर से दूर नजर आए।"फिल्म '83' के कलाकारों की बात करें तो रणवीर सिंह, दीपिका पादुकोण, ताहिर राज भसीन, साकिब सलीम, चिराग पाटिल, हार्डी संधू, अम्मी विर्क और पंकज त्रिपाठी जैसे चेहरे शामिल है। टीम इंडिया ने कैसे 1983 में अपने विश्व कप के सपने का पीछा किया और जीत हासिल की। यह फिल्म 24 दिसंबर को सिनेमाघरों में रिलीज की गई है।करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्रीPUBG खेलने के लिए मां के अकाउंट से 10 लाख रुपये खर्च कर घर से भाग गया लड़का******पबजी खेलने के लिए ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के जरिए से कथित तौर पर 10 लाख रुपये खर्च करने की खातिर अभिभावकों के डांटने पर जोगेश्वरी इलाके में 16 वर्षीय एक किशोर अपने घर से भाग गया। पुलिस के एक अधिकारी ने शुक्रवार को इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि लड़के के पिता ने MIDC थाने में उसके लापता होने की शिकायत दर्ज कराई थी। अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने भागे हुए लड़के का पता गुरुवार की दोपहर को अंधेरी (ईस्ट) में महाकाली केव्स इलाके में लगाया और उसे उसके माता-पिता के पास भेज दिया।पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना बुधवार की शाम को तब प्रकाश में आई जब लड़के के पिता ने एमआईडीसी थाने में उसके लापता होने की शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू की। जांच के दौरान लड़के के पिता ने पुलिस को बताया कि किशोर पिछले महीने से पबजी का आदी हो गया था और मोबाइल फोन पर खेलते हुए उसने अपनी मां के बैंक खाते से 10 लाख रुपये खर्च कर दिए। अधिकारी ने बताया कि जब अभिभावकों को ऑनलाइन लेन-देन के बारे में पता चला तो उन्होंने उसे डांटा जिसके बाद उसने एक पत्र लिखा और घर छोड़कर चला गया।पिछले साल अक्टूबर में तमिलनाडु में पबजी की लत से पीड़ित 14 साल के एक किशोर को उसके माता पिता ने इसे खेलने से रोका तो इससे परेशान होकर उसने आत्महत्या कर ली थी। वहीं, पिछले साल ही सितंबर में पश्चिम बंगाल के नादिया जिले में पबजी नहीं खेल पाने की वजह से 21 वर्षीय छात्र ने कथित रूप से खुदकुशी कर ली थी। पुलिस ने बताया था कि आईटीआई छात्र प्रीतम हलदर ने चकदाह थाना-क्षेत्र के पुरबा लालपुर में स्थित अपने घर में खुदकुशी कर ली।पिछले साल अगस्त में खेलने को लेकर हुए विवाद के बाद जम्मू जिले की आरएस पुरा तहसील में 3 लोगों ने कथित तौर पर एक व्यक्ति की हत्या कर दी। वहीं, पिछले साल जुलाई में महाराष्ट्र के नागपुर शहर में ऑनलाइन मोबाइल गेम ‘पबजी’ में हारने से निराश 13 वर्षीय एक लड़के ने कथित तौर पर आत्महत्या कर ली थी। इस बारे में वैज्ञानिकों ने भी चेतावनी दी है कि ऑनलाइन गेम ‘पबजी’ बच्चों को अपराध की दुनिया से परिचित करा रहे हैं और उनकी सोच को नकारात्मक बना रहे हैं।करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्रीवोट नहीं देने पर बैंक खाते से 350 रुपए काट लिए जाएंगे! जानिए चुनाव आयोग ने क्या कहा?******Highlightsचुनाव का मौसम है और वोट नहीं देने पर बैंक खाते से 350 रुपए काट लिए जाएंगे, इसको लेकर चर्चाओं का माहौल गर्म है। सोशल मीडिया पर एक खबर को शेयर करते हुए चुनाव आयोग के हवाले से कहा जा रहा है कि 'नहीं दिया वोट तो बैंक अकाउंट से 350 रुपए कटेंगे, चुनाव आयोग ने कोर्ट से पहले ही मंजूरी ले ली है, वहीं अगर बैंक अकाउंट नहीं है, तो मोबाइल रिचार्ज से पैसा कटेगा।अगर वोट नहीं दिया तो क्या सच में आपके खाते से 350 रुपये काट लिए जाएंगे। इसको लेकर (Election Commission) ने इस परस्थिति साफ की है। चुनाव आयोग ने कहा है कि- हमारे संज्ञान में आया है कि कुछ फर्जी खबरें व्हाट्स एप ग्रुप और सोशल मीडिया में फिर से प्रसारित की जा रही हैं। जिसमें वोट न देने पर बैंक खातों से 350 रुपए चुनाव आयोग द्वारा काट लिए जाने का जिक्र है।फेक न्यूज (Fake News) यानी फर्जी खबरों के लिए सरकार की ओर से सूचना एजेंसी पीआईबी यानी प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो (PIB) बनाई गई है। पीआईबी की फैक्ट चेक (PIB Fact Check) यूनिट फर्जी सूचनाओं का खंडन कर सही जानकारी सामने लाती है। PIBFactCheck ने वोट न देने पर खाते से 350 रुपए काटे जाने की खबर को लेकर ट्वीट कर बताया है कि- 'दावा: लोकसभा चुनाव में जो मतदाता वोट नहीं देंगे, उनके बैंक खातों से 350 रुपए चुनाव आयोग द्वारा काट लिए जाएंगे।#PIBFactCheck यह दावा फर्जी है। चुनाव आयोग ने ऐसा कोई फैसला नहीं लिया है। ऐसी भ्रामक खबरों को शेयर न करें।'प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो फैक्ट चेक टीम ने साथ ही चुनाव आयोग का 29 नवंबर 2021 को किया गया ट्वीट भी शेयर किया है। इसमें चुनाव आयोग ने इस वायरल फर्जी खबर को शेयर करते हुए सावधान रहने को कहा है। बता दें कि, आजकल सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मों पर कई तरह की फर्जी खबरें प्रसारित करके लोगों के साथ धोखाधड़ी की जा रही है। अगर आपके पास भी इस तरह का कोई मैसेज का लिंक क्लिक करने के लिए आए तो सावधान रहें।

करीब 3 दशक बाद खुली कश्मीर की सबसे पुरानी सिल्क फैक्ट्री

करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्रीVastu Tips: भाई को तिलक लगाते समय किस दिशा में मुख करना होगा शुभ, जानिए****** में आज जानिए भाई दूज की पूजा के बारे में। भाई दूज का यह त्यौहार भाई-बहन के प्यार का प्रतीक है और इस दिन बहन को रोली तिलक लगाकर भाई की पूजा करनी चाहिए, जिनके भाई पास में न हों, वे गोला लेकरउसको तिलक लगा सकती हैं और बाद में जब भाई मिले तो, उसे दे दें।यहां पर जरूरी बात यह है कि तिलक लगाते समय भाई का मुंह किस दिशा में होना चाहिए। तिलक के समय भाई का मुंह उत्तर या उत्तर-पश्चिम में से किसी एक दिशा में होना चाहिए और बहन का मुख उत्तर-पूर्व या पूर्व में होना चाहिए। जबकि पूजा के लिये चॉक उत्तर-पूर्व में बनाना चाहिए।पूजा में चॉक बनाने के लिये आटे और गोबर का इस्तेमाल किया जाता है। वास्तु शास्त्र में ये थी चर्चा भाई दूज की पूजा के बारे में, उम्मीद है आप इस वास्तु टिप्स को अपनाकर जरुर लाभ उठाएंगे।करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्रीगोटाबाया राजपक्षे के चचेरे भाई ने बताया, 24 अगस्त को श्रीलंका लौटेंगे पूर्व राष्ट्रपति******पिछले महीने देश छोड़कर भागे श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे 24 अगस्त को अपने वतन वापस लौटेंगे। उनके चचेरे भाई उदयंगा वीरातुंगा ने बुधवार को इस बारे में जानकारी देते हुए कह कि राजपक्षे ने उन्हें फोन पर बात की है। आर्थिक संकट को लेकर एक महीने से अधिक समय तक चले सरकार विरोधी प्रदर्शनों के बीच राजपक्षे देश छोड़कर भाग गये थे। 2006 से 2015 तक रूस में श्रीलंका के राजदूत रहे वीरातुंगा ने कहा, ‘उन्होंने मुझसे फोन पर बात की, मैं आपको बता सकता हूं कि वह अगले हफ्ते देश लौट आएंगे।’वीरातुंगा ने कहा कि 24 अगस्त को लौट सकते हैं। उन्होंने कहा कि अपदस्थ राष्ट्रपति को राजनीतिक पदों पर फिर से नहीं चुना जाना चाहिए। राजपक्षे के बारे में वीरतुंगा ने कहा, ‘लेकिन वह अभी भी देश के लिए कुछ सेवा कर सकते हैं जैसी उन्होंने पहले की थी।’ राजपक्षे फिलहाल थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक के एक होटल में ठहरे हुए हैं, जहां पुलिस ने उन्हें सुरक्षा कारणों से घर के अंदर रहने की सलाह दी है। राजपक्षे दूसरे देश में स्थायी शरण लेने से पहले अस्थायी प्रवास के लिए 11 अगस्त को सिंगापुर से एक विशेष उड़ान से थाईलैंड पहुंचे थे। वह उसी दिन बैंकॉक पहुंचे जिस दिन सिंगापुर में उनका वीजा खत्म हो गया था।थाइलैंड के प्रधानमंत्री प्रयुत चान-ओचा ने इससे एक दिन पहले पुष्टि की थी कि थाइलैंड सरकार ने राजपक्षे के देश में अस्थायी रूप से रहने पर सहमति जता दी है और इस दौरान राजपक्षे किसी तीसरे देश में स्थायी शरण मिलने की संभावनाएं तलाशेंगे। थाइलैंड के प्रधानमंत्री ने मानवीय आधार पर राजपक्षे को थाइलैंड यात्रा की इजाजत दी थी और कहा था कि उन्होंने किसी अन्य देश में स्थायी शरण की अपनी तलाश के दौरान इस देश में राजनीतिक गतिविधियां नहीं चलाने का वादा किया है।थाईलैंड सरकार ने पुष्टि की थी कि राजपक्षे के देश की यात्रा करने के लिए की मौजूदा सरकार से अनुरोध प्राप्त हुआ था। जुलाई में श्रीलंका में सरकार विरोधी प्रदर्शनों के बीच देश छोड़ने के बाद वह सिंगापुर गये थे। वह 13 जुलाई को मालदीव पहुंचे थे और उसके बाद सिंगापुर गये जहां उन्होंने देश के आर्थिक संकट को लेकर प्रदर्शनों के बीच अपने इस्तीफे की घोषणा की थी। इससे पहले श्रीलंका में ‘डेली मिरर’ अखबार की एक खबर में कहा गया था कि राजपक्षे 90 दिन का थाई वीजा समाप्त होने के बाद नवंबर में श्रीलंका लौट आयेंगे।

करीब 3 दशक बाद खुली कश्मीर की सबसे पुरानी सिल्क फैक्ट्री

करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्रीपंजाब में 300 यूनिट तक फ्री बिजली की घोषणा कर सकते हैं मान, सरकार का कल एक माह होगा पूरा******पंजाब सूबे के सीएम बने भगवंत मान की आप सरकार का एक माह पूरा हो रहा है। इस मौके पर वे 16 अप्रैल को पंजाब के लोगों को एक बड़ी खुशखबरी दे सकते हैं। गुरुवार को जालंधर में मान ने इस बारे में जिक्र भी किया था। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान राज्य में 300 यूनिट तक फ्री बिजली देने की घोषणा शनिवार को सकते हैं। न्यूज एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से यह खबर दी है। भगवंत मान के नेतृत्व में मान सरकार को पंजाब में कल शनिवार को एक महीने पूरे हो जाएंगे। गुरुवार को जालंधर में मान ने कहा था कि वो 16 अप्रैल को पंजाब के लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी देंगे।सीएम मान की बीते मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप संयोजक अरविंद केजरीवाल से मुलाकात हुई थी। आप के सूत्रों ने बताया कि इस दौरान पंजाब में 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली देने को लेकर चर्चा हुई। मालूम हो कि पंजाब विधानसभा चुनाव के दौरान मान ने राज्य में मुफ्त बिजली देने का वादा किया था।भले ही मान सरकार मुफ्त बिजली की घोषणा करने के लिए दृढ़ हैं, लेकिन कर्ज में डूबे पंजाब स्टेट पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (पीएसपीसीएल) का मानना है कि इसे गर्मियों के बाद ही लागू किया जाना चाहिए। बढ़ते तापमान के साथ पंजाब में बिजली की मांग पहले ही 8,000 मेगावाट पर पहुंच गई है। गेहूं की कटाई और धान की बुवाई का मौसम शुरू होने के साथ बिजली की मांग 15,000 मेगावाट तक पहुंचने की उम्मीद है।राशन की डोर स्टेप डिलीवरी शुरू की भी घोषणा हुईकुछ दिन पहले ही AAP ने पंजाब के लोगों के लिए राशन की डोर स्टेप डिलीवरी शुरू करने का फैसला किया है। राज्य के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा, "हमारे अधिकारी आपको फोन कर पूछंगे कि आप किस समय घर पर हैं। हमारे अधिकारी उस हिसाब से आपको आपके घर तक राशन पहुंचाएंगे। यह एक वैकल्पिक योजना है।" चुनाव के दौरान राशन की डोर स्टेप डिलीवरी का भी आप ने वादा किया था।

करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्रीColin de Grandhomme Retirement: स्टार कीवी ऑलराउंडर ने लिया संन्यास, फिटनेस को बताई वजह, कहा- अब ट्रेनिंग मुश्किल******Highlightsन्यूजीलैंड के अनुभवी ऑलराउंडर कोलिन डी ग्रैंडहोम ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। 36 साल के कीवी खिलाड़ी ने फिटनेस और बढ़ती उम्र का हवाला देते हुए संन्यास का ऐलान किया। न्यूजीलैंड के तीनों फॉर्मेट में 100 से अधिक मैच खेलने वाले ग्रैंडहोम ने बुधवार को न्यूजीलैंड क्रिकेट को अपने फैसले की जानकारी दी।ग्रैंडहोम ने अपने बयान में कहा, "मैं स्वीकार करता हूं कि मैं अब जवान नहीं हो रहा हूं और चोटों के साथ ट्रेनिंग करना भी मुश्किल हो रहा है।“ उन्होंने कहा कि “मेरा एक परिवार भी है और मैं यह समझने की कोशिश कर रहा हूं कि मेरा भविष्य क्रिकेट के बाद कैसा दिखता है। यह सब मेरे दिमाग में पिछले कुछ हफ्तों से चल रहा है।“कीवी ऑलराउंडर ने आगे कहा कि मैं भाग्यशाली रहा हूं कि 2012 में डेब्यू करने के बाद से मुझे ब्लैककैप्स के लिए खेलने का मौका मिला। मुझे अपने अंतरराष्ट्रीय करियर पर गर्व है, लेकिन मुझे लगता है कि इसे खत्म करने का यही सही समय है।"बता दें कि ग्रैंडहोम कीवी टीम का अहम हिस्सा रहे। उन्होंने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में 100 से अधिक मुकाबले खेले और इस दौरान 2600 से अधिक रन बनाने के साथ-साथ 91 विकेट भी निकाले। टेस्ट में उनका प्रदर्शन अधिक प्रभावशाली रहा। उन्होंने 29 मैचों में 38.70 की औसत से 1432 रन बनाए। इस दौरान उनके बल्ले से दो शतक और आठ अर्धशतक भी आए। गेंदबाजी में भी उन्होंने 32 की औसत से 49 विकेट लिए, जिसमें पाकिस्तान के खिलाफ डेब्यू में 41 रन देकर छह विकेट भी शामिल रहा।ग्रैंडहोम विश्व टेस्ट चैंपियनशिप जीतने वाली कीवी टीम का भी हिस्सा रहे थे। भारत के खिलाफ खेले गए पहले फाइनल में भी वह टीम के साथ थे।कीवी ऑलराउंडर का सीमित ओवर क्रिकेट में प्रदर्शन शानदार रहा था। उन्होंने वनडे में 45 मैच में 742 रन और 30 विकेट निकाले तो वहीं टी20 में 41 मैच में 138 की स्ट्राइक रेट से 505 रन बनाए और 12 विकेट झटके।करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्री'साहेब, बीवी और गैंगस्टर 3' के फ्लॉप होने से डिप्रेशन में हैं डायरेक्टर तिग्मांशु धूलिया******, जिमी शेरगिल, , चित्रांगदा सिंह, पंकज त्रिपाठी जैसे सितारों से सजी फिल्म 'का प्रदर्शन बॉक्स-ऑफिस पर बहुत निराशाजनक रहा है। फिल्म के पहले दो पार्ट हिट हुए थे, लेकिन तीसरा पार्ट लोगों को पसंद नहीं आया। तीसरे पार्ट के पिट जाने के बाद फिल्म के डायरेक्टर तिग्मांशु धूलिया डिप्रेशन में आ गए हैं। उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा कि पता नहीं क्या गलत हुआ। मुझे बहुत बुरा लग रहा है। मैं डिप्रेस हूं।ये भी पढ़ें-स्पटॉबॉय को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा- 'एक फिल्म बनाने में बहुत लोगों का हाथ होता है। कैमरामैन, एडिटर, साउंड रिकॉर्डिस्ट जैसे बहुत लोग मिलकर फिल्म बनाते हैं। फिल्म बनाने की प्रक्रिया में ये सब लोग पहले दिन से शामिल थे। हमें लगा हम अच्छी फिल्म बना रहे हैं।'उनसे पूछा गया कि फिल्म में संजय दत्त को देखकर स्टार वाली फीलिंग नहीं आई। इस पर उन्होंने कहा- 'प्लीज समझिए कि इस फिल्म का नाम सिर्फ गैंगस्टर नहीं था। फिल्म का नाम साहेब, बीवी और गैंगस्टर था। 130 मिनट के फिल्म में साहेब, बीवी और गैंगस्टर तीनों का रोल बराबर था।'फिल्म में माही का दबदबा दिख रहा था, जबकि चित्रांगदा सिंह का बहुत कम रोल था। इस पर तिग्मांशु ने कहा- 'ऐसा माही के कैरेक्टर की वजह से हुआ। वो सारे प्लॉट प्वाइंट्स में थीं।'फिल्म के बुरे कलेक्शन पर उन्होंने कहा- 'मुझे बहुत बुरा लग रहा है। मैं डिप्रेस फील कर रहा हूं।' 'साहेब, बीवी और गैंगस्टर 4' के सवाल पर उन्होंने कहा कि अभी इस बारे में कोई फैसला नहीं लिया गया है।फिल्म की असफलता का जिम्मेदार तिग्मांशु खुद को मानते हैं। उन्होंने कहा- अगली फिल्म से ध्यान देंगे।

करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्रीIND vs ENG 1st ODI Preview: वनडे में भी T20 वाले आक्रामक रवैये के साथ उतर सकती है टीम इंडिया, शिखर धवन की होगी वापसी******Highlightsइंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में आक्रामक रुख अख्तियार करने का भारत को फायदा हुआ। इसके बाद उम्मीद है कि मंगलवार 12 जुलाई से शुरू हो रही तीन मैचों की वनडे सीरीज में भी बल्लेबाज पहली गेंद से ही बड़ा शॉट लगाने से बचेंगे लेकिन रवैया आक्रामक ही नजर आ सकता है। भारतीय कप्तान रोहित शर्मा का मानना है कि टीम को अपने आक्रामक रूख को बनाए रखना चाहिए। गौरतलब है कि इंग्लैंड ने पिछले कुछ वर्षों में अपने आक्रामक खेल से एकदिवसीय क्रिकेट खेलने के तरीके को पूरी तरह से बदल दिया है।अंग्रेज टीम को इसका फायदा 2019 विश्व कप खिताब के साथ मिला था। पहली बार इंग्लैंड की टीम इयोन मॉर्गन की कप्तानी में चैंपियन बनी थी। लेकिन अब मॉर्गन संन्यास ले चुके हैं और कमान होगी जोस बटलर के हाथों में। फिलहाल टीम इंडिया की बात करें तो वह भी अब इंग्लैंड की ही तरह आक्रामक रवैये के साथ व्हाइट बॉल क्रिकेट खेलना चाहती है। इस साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप को देखते हुए रोहित ने कहा कि सफेद गेंद के प्रारूप में टीम का हर मैच अब अहम होगा।रोहित शर्मा ने इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के आखिरी मैच के बाद कहा, ‘‘ हमारे लिए सभी मैच अहम हैं। हम यह सोचकर नहीं खेल सकते कि एकदिवसीय प्राथमिकता नहीं है, लेकिन हमें प्रत्येक खिलाड़ी के कार्यभार को ध्यान में रखना होगा। हम कुछ बदलाव करेंगे लेकिन हमारा लक्ष्य मैच जीतना है। अब 50 ओवर के मैच को टी20 का विस्तारित प्रारूप माना जाता है।’’ भारतीय टीम लंदन के केनिंग्टन ओवल में सीरीज का पहला वनडे मैच खेलने 12 जुलाई को उतरेगी।यह सीरीज एकदिवसीय फॉर्मेट में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे शिखर धवन जैसे खिलाड़ी के लिए काफी अहम होगी। क्योंकि आगामी वेस्टइंडीज दौरे पर भी उन्हें टीम का नेतृत्व करना है। इसके अलावा अगले साल 2023 में भारत में वनडे विश्व कप का भी आयोजन होगा। तो उस लिहाज से भी यह श्रंखला महत्वपूर्ण होने वाली है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सीमित मौके मिलने के बाद भी धवन ने लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है। धवन एकदिवसीय खेलें या इंडियन प्रीमियर लीग उनके बल्ले से लगातार रन निकल रहे हैं।भारतीय प्रशंसकों सहित पूरी दुनिया अब विराट कोहली के लय में लौटने का इंतजार है। इस दौरे पर टेस्ट और टी20 में उनके बल्ले से रन नहीं निकले। टीम के नए रुख को देखते हुए उन पर पहली ही गेंद से रन बनाने का दबाव होता साफ दिखा। एकदिवसीय प्रारूप होने से हालांकि लय हासिल करने का उनके पास थोड़ा अधिक समय होगा। रविवार को टी20 मैच में छह गेंद की पारी में उन्होंने शानदार चौका और छक्का जड़ा लेकिन ज्यादा आक्रामक रूख अपनाने का खामियाजा भुगतना पड़ा।इंग्लैंड के विश्व चैंपियन कप्तान इयोन मोर्गन के रिटायरमेंट के बाद इंग्लैंड के फुलटाइम कप्तान के तौर पर जोस बटलर की यह पहली वनडे सीरीज होगी। हालांकि टीम टी20 सीरीज की हार से निराश होगी लेकिन वह इस निराशा को यहां दूर करना चाहेगी। खुद कप्तान भी खराब प्रदर्शन को पीछे छोड़कर लय हासिल करना चाहेंगे। टीम को टेस्ट टीम के कप्तान और स्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स, दिग्गज बल्लेबाज जो रूट और शानदार फॉर्म में चल रहे जॉनी बेयरस्टो जैसे दिग्गजों के आने से काफी मजबूती मिलेगी। जोस बटलर (कप्तान), मोइन अली, जॉनी बेयरस्टो, हैरी ब्रुक, ब्रायडन कार्स, सैम करन, लियाम लिविंगस्टोन, क्रेग ओवरटन, मैथ्यू पार्किंसन, जो रूट, जेसन रॉय, फिल साल्ट, बेन स्टोक्स, रीसे टॉपली, डेविड विली। रोहित शर्मा (कप्तान), शिखर धवन, ईशान किशन, विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, रवींद्र जडेजा, शार्दुल ठाकुर, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, जसप्रीत बुमराह, प्रसिद्ध कृष्णा, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज, अर्शदीप सिंह।करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्रीदिल्ली: पत्नी से संबंध के शक में होमगार्ड के पूरे परिवार को पिलवाया जहर******पत्नी से संबंध के शक में पति ने एक शख्स और उसके पूरे परिवार को जहर देकर खात्मे की साजिश रच डाली। रिपोर्ट्स के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी के अलीपुर इलाके में एक युवक ने अपनी पत्नी से संबंध के शक में एक होमगार्ड और उसके पूरे परिवार को जहरील पिलवा दिया। आरोपी ने जहर पिलाने के लिए दो-दो हजार रुपये मेहनताना देकर 2 महिलाओं को पीड़ित परिवार के घर भेजा गया था। पुलिस ने मुख्य षड्यंत्रकारी सहित दोनों आरोपी महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया है।जानकारी के अनुसार, पीड़ित होमगार्ड विक्रम उर्फ विक्की अपने परिवार के साथ अलीपुर के रमजानपुर इलाके में रहता है। दोपहर के वक्त उसके घर में दो महिलाएं आईं। दोनों अजनबी महिलाओं ने खुद को स्वास्थ्यकर्मी बताया। दोनों महिलाओं ने दवा बताकर विक्रम, उसकी पत्नी और बच्चों को पिला दिया। सबकी हालत बिगड़ने पर दोनों महिलाएं वहां से खिसक लीं। बाद में जब विक्रम और उसके परिजनों को अस्पताल में दाखिल कराया गया, तब मामले का भंडाफोड़ हुआ।पुलिस छानबीन में पता चला कि षड्यंत्रकारी को पीड़ित परिवार के मुखिया पर शक था कि उसके संबंध षड्यंत्रकारी की पत्नी से हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इसीलिए आरोपी प्रदीप ने पत्नी के कथित प्रेमी और उसके पूरे परिवार को खत्म करने की योजना बना डाली। घटना सोमवार को दिनदहाड़े घटी बताई जाती है। आरोपी ने बताया कि विक्रम को उसने कई बार पत्नी से मिलने के लिए मना किया था, लेकिन वह नहीं माना था। इसलिए उसने यह प्लान बनाया था।

करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्रीEquitas Small Finance Bank ने पेश किया महिलाओं के लिए विशेष बचत खाता, मिलेगा 7 प्रतिशत ब्‍याज******Equitas Small Finance Bank launches women savings account offering 7 pc interestइक्विटास स्मॉल फाइनेंस बैंक (Equitas Small Finance Bank : ESFB) ने सोमवार को महिलाओं के लिए ईवा नाम से बचत खाता शुरू करने की घोषणा की है। बैंक ने इस बचत खाते पर सात प्रतिशत ब्याज दर की पेशकश की है। बैंक ने एक विज्ञप्ति में कहा कि ईवा एक अद्वितीय बचत खाता है। यह स्वास्थ्य, धन और समृद्धि जैसे हर पहलू में भारतीय महिलाओं की भलाई की कोशिश करता है। बैंक ने कहा कि 7 प्रतिशत ब्याज के साथ, यह महिला डॉक्टरों, स्त्रीरोग विशेषज्ञ और मानसिक स्वास्थ्य विशेषज्ञों के साथ मुफ्त स्वास्थ्य जांच व असीमित टेली-परामर्श भी प्रदान करता है। इसके अलावा यह पीएफ छूट और महिला ग्राहकों के लिए गोल्ड लोन की दरों में छूट प्रदान करता है। इसके अलावा महिलाओं को लॉकर्स पर 25 से 50 प्रतिशत तक का डिस्‍काउंट भी दिया जा रहा है। बैंक ने महिला क्रिकेटर स्मृति मंधाना को नया ब्रांड एंबेसडर घोषित किया है।ईवा बचत खाता सभी तरह की महिलाओं- वेतनभोगी, गृहिणी, वरिष्‍ठ नागरकि, ट्रांसवूमन- के लिए है। एनआरआई महिलाएं भी यह खाता खोल सकती हैं और इस खाते पर कोई भी मेंटेनेंस फीस नहीं ली जाएगी।इक्विटास स्‍मॉल फाइनेंस बैंक के प्रेसिडेंट और कंट्री हेड- ब्रांच बैंकिंग, लायबिलिटीज, प्रोडक्‍ट और वेल्‍थ मुरली वैद्यनाथन ने कहा कि हमारा बैंक लोगों विशेषकर महिलाओं को सशक्‍त बनाने की पुरानी परंपरा के अनुसार समाज के हर वर्ग के महिलाओं को अपने वित्‍तीय निर्णय लेने में प्रोडक्‍ट्स और प्रोवीजन के जरिये समझदार, सहभागी और स्‍वतंत्र बनने में मदद करता है।करीब3दशकबादखुलीकश्मीरकीसबसेपुरानीसिल्कफैक्ट्रीSAG 2019: विजयरथ पर सवार भारतीय महिला फुटबॉल टीम दक्षिण एशियाई खेलों के फाइनल में******दक्षिण एशियाई खेलों अपना दमदार प्रदर्शन जार रखते हुए भारतीय महिला फुटबॉल टीम ने फाइनल में अपनी जगह बना ली है। भारतीय टीम की यह लगातार तीसरी जीत थी। भारत ने पोखरा स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में मेजबान नेपाल की टीम को 1-0 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया।इस जीत के बाद भारत राउंड रोबिन चरण में शीर्ष स्थान पर रहा। भारतीय टीम की टूर्नामेंट में यह लगातार तीसरी जीत है। इसके साथ ही दक्षिण एशियाई खेल में भारतीय महिला फुटबॉल टीम ने एक मेडल पक्का कर लिया।मौजूदा चैंपियन भारत ने अपने पहले मैच में मालदीव को 5-0 से और दूसरे मैच में श्रीलंका को 6-0 से करारी शिकस्त दी थी। भारतीय टीम के लिए तीसरे मैच में बाला देवी ने 18वें मिनट में एकमात्र विजयी गोल किया।फाइनल में भारत का सामना इसी मैदान पर मेजबान नेपाल के खिलाफ होगा।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-07 13:27
उद्धरण 1 इमारत
Kangana Ranaut ने वीडियो शेयर कर Mahesh Bhatt की खोली पोल, कहा- 'ये असलम हैं इन्होंने धर्मांतरण किया है'******Highlightsकंगना रनौत अपने जवाब और अपने बिंदास अंदाज के लिए हमेशा चर्चा में रहती हैं। कंगना अक्सर अपने ट्वीट और पोस्ट के कारण विवादों में घिर जाती हैं वहीं एक बार फिर कंगना ने कुछ ऐसा पोस्ट किया है इस कारण वो एक बार फिर सुर्खियों में आ गई हैं। बता दें हाल ही में कंगना रनौत ने महेश भट्ट को लेकर कुछ ऐसा पोस्ट कर दिया है जो कि बहुत ज्यादा चर्चा में है। कंगना रनौत ने महेश भट्ट का एक पुराना वीडियो शेयर करते हुए बताया है कि उनका असली नाम महेश नहीं, बल्कि 'असलम' है।कंगना ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी में महेश भट्ट का पुराना वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो महेश भट्ट इस्लाम के बारे में अपनी भावनाएं प्रकट कर रहे है और लोगेों को उसकी जानकारी दे रहे हैं। कंगना ने इंस्टाग्राम में स्टोरी शेयर करते हुए लिखी हैं कि 'महेश भट्ट को अपने असली नाम का इस्तेमाल करना चाहिए न कि किसी धर्म का प्रतिनिधित्व करना चाहिए। उन्होंने अपनी दूसरी पत्नी (सोनी राजदान) के लिए 'धर्मांतरण' किया है। उन्हें अपने असली नाम का उपयोग करना चाहिए"कंगना पहले भी महेश भट्ट कई बार गंभीर आरोप लगा चुकी हैं। साल 2020 में कंगना ने महेश पर उनके साथ मारपीट करने का आरोप लगाया था।
2022-10-07 12:48
उद्धरण 2 इमारत
अक्षय तृतीया पर सोने की बिक्री 30 प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद, सोना खरीदना माना जाता है शुभ****** आभूषण विक्रेताओं को अक्षय तृतीया पर्व पर सोने की बिक्री 30प्रतिशत तक बढ़ने की उम्मीद है। अक्षय तृतीया इस बार 28 अप्रैल को है और इस पर्व पर सोना खरीदना शुभ माना जाता है।अखिल भारतीय रत्न एवं आभूषण व्यापार महासंघ के अध्यक्ष नितिन खंडेलवाल ने बताया कि पिछले वर्ष के मुकाबले इस बार अक्षय तृतीया की बिक्री में 20 से 30 प्रतिशत की वृद्धि होने की उम्मीद है। आने वाले दिनों में सोने की दरें और मजबूत होने की भी संभावना है। उद्योग संगठन वर्ल्‍ड गोल्ड काउंसिल के प्रबंध निदेशक सोमासुन्दरम पीआर ने कहा कि अक्षय तृतीया का पर्व उपभोक्ताओं की धारणा का संकेत देता हैं। उन्होंने कहा कि सोने की कीमतें उतनी नहीं बढ़ीं जितनी कि अंतरराष्ट्रीय बाजारों में बढ़ी हैं, इसका कारण रुपए की धारणा मजबूत होना है। लोगों को सोने में निवेश करने का यह बेहतर मौका दिख रहा है।उन्होंने कहा कि हालांकि वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) तथा नकदी खरीद को लेकर चिंता अभी भी बनी हुई है।पीएन गाडगिल ज्वैलर्स के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक सौरभ गाडगिल ने कहा कि इस बार अक्षय तृतिया विवाह सीजन के बीच में और सप्‍ताह के अंत में पड़ रही है, जिसकी वजह से बिक्री 30 प्रतिशत अधिक होने की संभावना है।मनुभाई ज्‍वैलर्स के डायरेक्‍टर समीर सागर का कहना है कि बाजार में सकारात्‍मक रुख है और गुड़ी पड़वा से एक हफ्ते पहले ही मांग आना शुरू हो गई थी, जिससे यह संकेत मिलता है कि इस बार अक्षय तृतीया पर पिछले साल से 25 फीसदी अधिक खरीदारी होगी। सबसे ज्‍यादा मांग 25-25 ग्राम वजन में रहेगी। इस साल सबका फोकस विवाह आभूषणों पर रहेगा, क्‍योंकि अभी शादी विवाह का सीजन चल रहा है।अनमोल के संस्‍थापक इशू दतवानी कहते हैं कि सोने की बढ़ती कीमतों और ज्‍वैलर्स के विभिन्‍न ऑफर्स की वजह से इस बार अक्षय तृतीया पर सोने की बिक्री 25-25 प्रतिशत अधिक रहेगी। नोटबंदी के बाद से स्थिति में अब काफी सुधार आ चुका है और इस साल लोग न केवल सोने के आभूषण खरीद रहे हैं बल्कि हीरे जडि़त आभूषणों की भी मांग कर रहे हैं।
2022-10-07 12:35
उद्धरण 3 इमारत
तमिलनाडु: BJP ऑफिस पर पेट्रोल बम से हमला, कार्यकर्ता बोले- 15 साल पहले भी हुआ था ऐसा******Highlights तमिलनाडु में कुछ अज्ञात लोगों ने बीजेपी ऑफिस पर हमला कर दिया है। ये हमला गुरुवार तड़के सुबह हुआ और इसमें पेट्रोल बम का इस्तेमाल किया गया था। फिलहाल इसमें किसी के हताहत होने की खबर नहीं मिली है। बीजेपी ने इसके पीछ सत्तारूढ़ दल का हाथ बताया है।बीजेपी नेता कराटे त्यागरंजन ने कहा, सुबह करीब डेढ़ बजे हमारे ऑफिस पर पेट्रोल बम से हमला किया गया था। ऐसा ही हमला करीब 15 साल पहले हुआ था और इसमें डीएमके का हाथ था। हम इस घटना के लिए तमिलनाडु सरकार (भूमिका) की निंदा करते हैं। हमने पुलिस को भी इस घटना की सूचना दे दी है। बीजेपी ऐसे हमलों से डरने वाली नहीं है।'बीजेपी की तमिलनाडु इकाई के अध्यक्ष के.अन्नामलाई ने कुछ दिन पहले कहा था कि राज्य की जनता द्रमुक सरकार को सत्ता से हटाने के इंतजार में है। शहरी निकाय चुनाव के उम्मीदवारों के नाम घोषित करते हुए बीजेपी नेता ने कहा कि द्रमुक के सत्ता में आने के बाद कोयंबटूर जिले को कोविड-रोधी टीके की कमी का सामना करना पड़ा था।अन्नामलाई ने मुख्यमंत्री एम.के.स्टालिन के ऑनलाइन प्रचार अभियान का हवाला देते हुए आरोप लगाया कि द्रमुक अध्यक्ष ने झूठ बोलना और बीजेपी के खिलाफ प्रचार की शुरुआत कर दी है। बीजेपी नेता ने आरोप लगाया कि द्रमुक सिर्फ इसलिए नीट का विरोध कर रहा है क्योंकि उसके पदाधिकारी मेडिकल कॉलेज चला रहे हैं।
वापसी