नई पोस्ट करें

KK Death: 'जरा सी दिल में दे जगह...' KK के निधन के बाद ट्विटर पर ट्रेंड हुए Emraan Hashmi, बिखर गई सुपरहिट जोड़ी

2022-10-07 15:02:24 768

जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीIPL 2022: रिकॉर्ड अर्धशतक के बाद क्या था पैट कमिंस का रिएक्शन, मैच के बाद किया खुलासा******मुंबई इंडियंस के खिलाफ महज 14 गेंद में तेजतर्रार अर्धशतकीय पारी खेलने वाले कोलकाता नाइट राइडर्स के पैट कमिंस ने कहा उन्हें खुद भी इस पर विश्वास नहीं हो रहा है कि उन्होंने यह रिकॉर्ड अपने दर्ज किया है। कमिंस की इस तूफानी पारी की बदौलत ही केकेआर ने मुंबई को 5 विकेट से हराया। कमिंस ने अपनी पारी में चार चौके और छह छक्के लगाये और केवल 14 गेंदों पर अर्धशतक पूरा करके रिकॉर्ड बनाया।अपनी पारी के दौरान उन्होंने डेनियल सैम्स के एक ओवर में 35 रन बनाये। मैन ऑफ द मैच कमिन्स ने मैच के बाद कहा, ‘‘मैं इस पारी से अधिक हैरान हूं। बस ये रन बन गये। मैं बहुत अधिक नहीं सोच रहा था। यह वास्तव में संतोषजनक है। ऐसा लग रहा था कि गेंद हवा में तैर रही थी। ’’कमिंस ने कहा, ''मैच से पहले कई सारी चीजे से थी जिसे लेकर मैं सोच रहा था। इस सीजन के ऑक्शन में टीम में कई बड़े बदलाव हो गए हैं। यह एक अच्छा बदलाव है। टीम में कई तरह के नए प्रतिभावन खिलाड़ी आए हैं जो कि बेहतरीन है।''आपको बता दें कि इस मुकाबले में मुंबई की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवरों के खेल में 4 विकेट के नुकसान पर 161 रनों का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया था। इस दौरान टीम के लिए सीजन में अपना पहला मैच खेल रहे सुर्यकुमार यादव ने 52 रनों का महत्वपूर्ण योगदान दिया। इसके अलावा तिलक वर्मा ने 38 रनों की सूझबूझ भरी पारी खेली।वहीं मुंबई इंडियंस के इस स्कोर के जवाब में केकेआर जब बल्लेबाजी के लिए मैदान पर उतरी तो उसकी शुरुआत कुछ खास नहीं रही थी। टीम ने 101 रन के स्कोर पर अपने पांच विकेट गंवा दिए थे लेकिन इसके बाद पैट कमिंस और अंत तक बल्लेबाजी करने वाले वेंकटेस ने अय्यर ने टीम को 4 ओवर शेष रहते ही जीत दिला दी।

जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीजेपी ने 31 दिसंबर तक अगर नहीं चुकाया 108 करोड़ रुपए का बकाया, तो फॉर्मूला वन बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट होगा बंद******buddh international circuit संकट से जूझ रहे की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं। कंपनी पर यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण का 108 करोड़ रुपए का बकाया है। प्राधिकरण ने कहा है कि इस साल अंत तक बकाया नहीं चुकाया गया तो कंपनी को फॉर्मूला वन बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट और जेपी स्पोर्ट्स सिटी के लिए आवंटित 1,000 एकड़ भूमि वापस ली जा सकती है। प्राधिकरण के चेयरमैन प्रभात कुमार ने कहा कि प्राधिकरण के निदेशक मंडल ने जेपी समूह को थोड़ी राहत देने का निर्णय किया है। कंपनी को यह राशि सितंबर तक चुकानी थी। अब उसे एक माह का और समय दिया गया है ताकि वह अपना सारा कर्ज निपटा सके। अन्यथा उसके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है, जिसमें भूमि का आवंटन निरस्त किया जा सकता है।कुमार ने कहा कि 1,000 एकड़ भूमि आवंटन के बदले जेपी समूह पर प्राधिकरण का 108 करोड़ रुपए बकाया है। यह भूमि फॉर्मूला वन बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट और जेपी स्पोर्ट्स सिटी के निर्माण के लिए दी गई थी। प्राधिकरण ने इस भुगतान के लिए कंपनी को बहुत बार समय दिया लेकिन वह इसकी किस्तों का भुगतान करने में असफल रही। अब उसे यह अंतिम समय दिया है कि वह अपने सारे बकाया का निपटान करे अन्यथा कार्रवाई के लिए तैयार रहे।जेपी समूह की दो कंपनियां जयप्रकाश एसोसिएट्स लिमिटेड और जेपी इंफ्राटेक लिमिटेड दिवाला एवं शोधन अक्षमता प्रक्रिया का सामना कर रही हैं।प्राधिकरण की 64वीं निदेशक मंडल की बैठक में यमुना एक्सप्रेस-वे पर चुंगी नहीं बढ़ानेका भी निर्णय किया गया। साथ ही एक्सप्रेस-वे से लगे सेक्टर 18, 20 और 29 में 12 होटल और सात पेट्रोल पंप खोलने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गई।जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीKanwar Yatra 2022: CM पुष्कर सिंह धामी ने हरिद्वार में कांवड़ियों के धोए पैर, फूल मालाएं पहनाकर किया भव्य स्वागत******Highlights उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने कांवड़ यात्रा के तहत बुधवार को हरिद्वार में गंगा घाट पर आए शिव भक्त कांवड़ियों का पैर धोकर स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर डामकोठी में राजकीय अतिथि गृह में वृक्षारोपण भी किया। उन्होंने कहा कि कांवड़ यात्रा से संबंधित सभी व्यवस्थाएं सुचारू रूप से चलें, इसके लिए सरकार द्वारा कांवड़ यात्रा के वास्ते पहली बार अलग से बजट की व्यवस्था की गई है।मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि देवभूमि आए शिव भक्तों में भगवान शिव का अंश देखा जा सकता है। उन्होंने यात्रा के इंतजाम के लिए जिला प्रशासन के अलावा सामाजिक व स्वयंसेवी संगठनों की भी सराहना की। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि देवभूमि उत्तराखंड में इस वर्ष चारधाम एवं कांवड़ यात्रा में रिकॉर्ड श्रद्धालु आ रहे हैं। अभी तक 27 लाख से अधिक पंजीकृत श्रद्धालु चारधाम दर्शन के लिए आ चुके हैं। आज 28 लाख से अधिक कांवड़ यात्री देवभूमि उत्तराखंड में हैं।मुख्यमंत्री ने कहा कि कांवड़ यात्रा में श्रद्धालुओं को किसी भी परेशानी का सामना न करने पड़े, इसके लिए उच्च स्तर पर एक व्हाट्सऐप ग्रुप भी बनाया गया है, इस समूह के माध्यम से सभी व्यवस्थाओं की निगरानी की जा रही है। कांवड़ियों के सम्मान समारोह के अवसर पर विधायक आदेश चौहान, प्रदीप बत्रा, पूर्व विधायक संजय गुप्ता, गढ़वाल के आयुक्त सुशील कुमार व अन्य पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद थे।कांवड़ मेले के छठे दिन हरिद्वार में डाक कांवड़ के जोर पकड़ने के साथ ही डायवर्जन का दूसरा चरण लागू कर दिया गया। वहीं श्रावण मास कांवड़ यात्रा के छठे दिन मंगलवार को रिकार्ड 18 लाख कांवड़ यात्रियों ने गंगा जल लेकर गंतव्य को प्रस्थान किया। चहुंओर बम-बम भोले के जयकारे लगते रहे। हरकी पैड़ी और आसपास के गंगा घाटों से लेकर मंदिर, बाजारों और पैदल मार्ग के अलावा हाईवे पर सिर्फ कांवड़ यात्री ही नजर आ रहे हैं।बुधवार दोपहर 12.50 पर पंचक खत्म होते ही धर्मनगरी में दिल्ली-एनसीआर, पश्चिमी उत्तर प्रदेश आदि क्षेत्रों से शिवभक्तों का रेला उमड़ने की संभावना है। भीड़ के चलते प्रशासन ने हरिद्वार जिले में 20 जुलाई से बंद होने वाले तमाम स्कूल 19 जुलाई से ही बंद करवा दिए।

KK Death: 'जरा सी दिल में दे जगह...' KK के निधन के बाद ट्विटर पर ट्रेंड हुए Emraan Hashmi, बिखर गई सुपरहिट जोड़ी

जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीLockdown की वजह से ऑटो इंडस्‍ट्री को हुआ प्रतिदिन 2300 करोड़ रुपये का नुकसान, 3.45 लाख नौकरियां हुईं खत्‍म******Parliamentary panel reports automotive industry suffered Rs 2,300 crore loss per day in lockdownसंसद की एक समिति ने कहा है कि कोविड-19 महामारी और उसकी रोकथाम के लिए देश में लगाए गए लॉकडाउन की वजह से वाहन उद्योग को प्रतिदिन 2,300 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ और क्षेत्र में करीब 3.45 लाख लोगों की नौकरियां जाने का अंदेशा है। समिति ने मंगलवार को अपनी रिपोर्ट राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू को सौंपी। तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) सांसद केशव राव की अध्यक्षता वाली वाणिज्य पर संसद की स्थायी समिति ने आकर्षित करने के लिए कुछ उपायों का भी सुझाव दिया है। इसमें मौजूदा भूमि और श्रम कानूनों में बदलाव शामिल हैं। समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि समिति को वाहन उद्योग के संठनों ने सूचित किया कि सभी प्रमुख मूल कलपुर्जे, उपकरण विनिर्माताओं (ओईएम) ने कम उत्पादन और वाहनों की बिक्री कम होने से अपने उत्पादन में 18 से 20 प्रतिशत की कमी की है। इससे वाहन क्षेत्र में रोजगार की स्थिति पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा और क्षेत्र में करीब 3.45 लाख रोजगार के नुकसान का अनुमान लगाया गया है। रिपोर्ट के अनुसार वाहन उद्योग क्षेत्र में नियुक्तियां लगभग रूकी हुई हैं। इसके अलावा 286 वाहन डीलरों की दुकानें बंद हो गई हैं। उत्पादन में कटौती का कल-पुर्जे बनाने वाले उद्योग पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है। इससे सर्वाधिक असर उन सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यमों (एमएसएमई) पर पड़ा है, जो वाहन के उपकरण बनाने के काम में लगे थे।समिति ने कहा कि वाहन उद्योग संगठनों की सूचना के अनुसार कोविड-19 महामारी और उसकी रोकथाम के लिए लगाए गए लॉकडाउन से वाहन ओईएम में उत्पादन रुक गया। इससे वाहन क्षेत्र को प्रतिदिन करीब 2,300 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। संसद की समिति ने यह भी कहा कि वास्तविक प्रभाव इस बात पर निर्भर करता है कि लॉकडाउन की अवधि कब तक रहती है और कोविड-19 संकट की स्थिति कैसी रहती है। रिपोर्ट के अनुसार संकट को देखते हुए यह आशंका है कि वाहन उद्योग में कम-से-कम दो साल बड़ी गिरावट रह सकती है। इससे क्षमता का कम उपयोग होगा, पूंजी व्यय कम होगा, कंपनियों के दिवालिया होने तथा पूरे वाहन क्षेत्र में नौकरियों पर प्रतिकूल असर रहने की आशंका है।जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीफॉक्सवैगन चीन में करेगी 33,142 वाहनों को रिकॉल, ड्रेन वॉल्‍व में खराबी का चला है पता****** जर्मनी की कार निर्माताने चीन की जनरल एडमिनिस्ट्रेशन ऑफ क्वालिटी सुपरविजन, इंसपेक्शन और क्वैरेनटाइन द्वारा दोषपूर्ण ड्रेन वॉल्व का पता लगाने के बाद वहां 33,142 वाहनों को रिकॉल करने की घोषणा की है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ न्यूज की रिपोर्ट में बताया गया है कि कार निर्माता ने दिसंबर 2014 से नवंबर 2017 के बीच निर्मित तुआरेग मॉडल को रिकॉल करने की योजना दाखिल की है।इन वाहनों के इंजन के ड्रेन वॉल्व में खराबी है, जिसके कारण पानी सही तरीके से बाहर नहीं निकलता और इसके कारण सुरक्षा संबंधी परेशानियां हो सकती हैं। कंपनी 30 अप्रैल से रिकॉल की प्रक्रिया शुरू करेगी।फॉक्सवैगन और चीनी निर्माता फर्स्ट ऑटोमोबाइल की संयुक्त उद्यम ने इंजन में खराबी के कराण फरवरी के अंत में 4,30,388 वाहनों की रिकॉल किया था, जिसमें बोरा और बेई मॉडल शामिल थे। साल 2017 के सितंबर में फॉक्सवैगन ने चीन में 18 लाख कारों को रिकॉल किया था, क्योकि उनके फ्यूल पंप कंट्रोल यूनिट में खराबी थी।जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीMaharashtra: महाराष्ट्र में एक नकली GST चालान रैकेट का भंडाफोड़, 20 करोड़ रुपये से ज्यादा के धोखाधड़ी मामले में दो गिरफ्तार******Highlights सेंट्रल गुड्स एंड सर्विस टैक्स (CGST) कमिश्नरेट के अधिकारियों ने महाराष्ट्र के ठाणे जिले के भिवंडी में स्थित दो कंपनियों के मालिकों को कथित रूप से धोखाधड़ी मामले में गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक, 20 करोड़ रुपये से ज्यादा मूल्य के इनपुट टैक्स क्रेडिट (ITC) का लाभ उठाने के आरोप हैं। सीजीएसटी कमिश्नरेट (भिवंडी) ने कहा कि दोनों कंपनियों द्वारा धोखाधड़ी किए जाने का खुलासा होने के बाद गुरुवार को गिरफ्तारियां की गईं।इन दोनों की गिरफ्तारी के साथ भिवंडी कमिश्नरेट ने पिछले एक साल में अब तक इस तरह के अपराधों में 16 लोगों को गिरफ्तार किया है। कमिश्नरेट ने एक प्रेस रिलीज में कहा कि अधिकारियों ने एक नकली जीएसटी चालान रैकेट का भंडाफोड़ किया, जिसका इस्तेमाल 41 करोड़ रुपये के फर्जी चालान पर लगभग 18 करोड़ रुपये के नकली आईटीसी का लाभ उठाने के लिए किया गया था।कमिश्नरेट के मुताबिक, एम एम बिल्डकॉन/लम्बोदर बिल्डकॉन के मालिक को सीजीएसटी एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया है। प्रेस रिलीज के अनुसार, जांच के दौरान मिले साक्ष्यों के आधार पर कंपनी के मालिक को गिरफ्तार कर लिया गया और 30 अगस्त तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। पिछले एक साल में सीजीएसटी भिवंडी कमिश्नरेट द्वारा यह 16वीं गिरफ्तारी है।प्रेस रिलीज के मुताबिक, दूसरे मामले में कमिश्नरेट ने विश्वकर्मा इंटरप्राइजेज से जुड़े एक नकली जीएसटी चालान रैकेट का भंडाफोड़ किया, जिसमें 14.30 करोड़ रुपये के फर्जी चालान के माध्यम से 2.57 करोड़ रुपये के अयोग्य आईटीसी का लाभ उठाया गया था।सीजीएसटी मुंबई साउथ कमिश्नरेट के अधिकारियों ने एक नकली जीएसटी चालान रैकेट का भंडाफोड़ किया था और मैसर्स एमी इंटरनेशनल जर्नल (ओपीसी) प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक को कथित तौर पर नकली जीएसटी इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) से 55 करोड़ रुपये के फर्जी चालान पर करीब 27.59 करोड़ रुपये का लाभ उठाने के लिए गिरफ्तार किया है। सेंट्रल इंटेलिजेंस यूनिट, CGST मुंबई ज़ोन से प्राप्त एक विशिष्ट इनपुट पर कार्रवाई करते हुए, CGST मुंबई साउथ कमिश्नरेट की एंटी-थेफ्ट विंग ने एक जांच शुरू की। यह पाया गया कि करदाता व्यवसाय के पंजीकृत स्थान पर कोई काम ही नहीं करता था।

KK Death: 'जरा सी दिल में दे जगह...' KK के निधन के बाद ट्विटर पर ट्रेंड हुए Emraan Hashmi, बिखर गई सुपरहिट जोड़ी

जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीWorld Cup 2019: ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान एलेन बार्डर का बड़ा बयान, कहा- जिसका डर था वही हुआ******लंदन। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान एलेन बार्डर ने कहा है कि उन्हें हमेशा से डर था कि इंग्लैंड अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन बड़े मैच में करेगा और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विश्व कप सेमीफाइनल में वही हुआ।उन्होंने आईसीसी के लिये अपने कॉलम में लिखा, ‘‘मेरे दिमाग में हमेशा से डर था कि इंग्लैंड बड़े स्तर पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेगा। उन्होंने ऐसा ही किया और ऑस्ट्रेलिया कुछ नहीं कर सका।’’उन्होंने कहा, ‘‘जो तारीफ का हकदार है, उसकी तारीफ की जानी चाहिये। इंग्लैंड का प्रदर्शन शानदार था और मुझे इस तरह के प्रदर्शन की आशंका थी।’’ बार्डर ने स्वीकार किया कि इंग्लैंड ने गेंदबाजी और बल्लेबाजी में टीम की तरह शानदार प्रदर्शन किया।उन्होंने कहा, ‘‘वे हर तरह से लाजवाब थे। पहले दस ओवर में उम्दा गेंदबाजी और फिर शानदार बल्लेबाजी। आस्ट्रेलिया दबाव में आ गया और उससे निकल ही नहीं सका।’’ बार्डर ने कहा, ‘‘लेकिन इंग्लैंड शुरू ही से खिताब का प्रबल दावेदार था। उसने भी उतार चढाव देखे लेकिन जरूरत के समय अच्छा खेले।’’जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीDGCA के आदेश पर एयर इंडिया ने उठाया कदम, अब यात्रियों को नहीं आएगी परेशानी****** उड़ान समय सारणी में बदलाव या देरी के बारे में यात्रियों को पहले से जानकारी उपलब्ध करने के लिये नई व्यवस्था स्थापित करेगी। साथ ही कंपनी हवाईअड्डे से संबंधित मुद्दों के समाधान को समन्वय टीम भी स्थापित करेगी। कंपनी द्वारा आंतरिक तौर पर जारी सूचना में यह कहा गया है। विभिन्न कार्यों की समीक्षा के बाद टाटा के स्वामित्व वाली एयर इंडिया ने प्रदर्शन को बेहतर बनाने के लिये सुधार वाले क्षेत्रों की पहचान की है।एयर इंडिया के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) और प्रबंध निदेशक कैम्पबेल विल्सन ने आंतरिक स्तर पर जारी सूचना में कहा कि एयरलाइन सुधार करने के लिये हवाईअड्डा ‘स्लॉट’ मांगेगी। उन्होंने कहा कि एयरलाइन ‘स्लॉट’ के स्तर पर जो बदलाव चाहती है, उसमें सभी इस सत्र में मिलना मुश्किल है लेकिन हम जानते हैं, हमें क्या करना है। हम सत्र-दर-सत्र इस मामले में आगे बढ़ेंगे। जुलाई महीने में घरेलू बाजार में 8.4 प्रतिशत हिस्सेदारी रखने वाली एयरलाइन हवाईअड्डे से संबंधित मुद्दों को बेहतर तरीके से समझने के लिये एक हवाईअड्डा/केंद्र नियंत्रण/क्षेत्रीय नियंत्रण समन्वय टीम भी स्थापित करेगी।सूचना के अनुसार, एयरलाइन की हवाईअड्डा संचालन टीम कामकाज और प्रदर्शन में सुधार के लिये रखरखाव कार्यों से जुड़े भागीदारों के साथ मिलकर काम कर रही है। इसमें कहा गया है, ‘‘हम अपने ग्राहकों को बेहतर सुविधा देने के लिये व्यवस्था बना रहे हैं। इसमें यात्रियों को उड़ान समयसारणी में बदलाव या देरी के बारे में पहले ही सूचना देना शामिल है। साथ ही जहां भी उपयुक्त हो, उड़ानों में स्वयं से बदलाव की सुविधा भी दी जाएगी।’’ टाटा ने एयर इंडिया का इस साल जनवरी में अधिग्रहण किया था।डीजीसीए इसे लेकर पत्र भी लिख चुका है, जिसमें उसके द्वारा कहा गया था कि सभी हवाईअड्डा संचालकों के कमियों का पता लगाने के लिए उनके वन्यजीव जोखिम प्रबंधन कार्यक्रम की समीक्षा की जाए। बता दें, डीजीसीए ने हवाईअड्डा संचालकों से वन्यजीव जोखिम का आकलन करने को कहा है। इसके अलावा नियमित गश्त करने को भी कहा गया है। साथ ही एयरलाइन कंपनियों को यात्रियों को किसी भी तरह की परेशानी ना हो इसे सुनिश्चित करने को कहा था और सुरक्षा निगरानी बढ़ाने की दिशा में काम करने का आदेश दिया था।किसी भी विमान के उड़ान भरने से पहले उसकी कई बारीकी तकनीकी जांच की जाती है। जब पायलट सभी जांच को ओके कर देता है। तब माना जाता है कि विमान उड़ने के काबिल है। इससे पहले फ्लाइट क्रू और मेंटिनेंस क्रू भी जांच में मदद करते हैं। मगर उड़ान भरने से पहले इसकी पूरी जिम्मेदारी पायलट और को पायलट की होती है। मेंटिनेंस टीम विमान के रख-रखाव और प्रबंधन का कार्य देखती है। वह इसकी पूरी सूचना फ्लाइट क्रू को देती है।

KK Death: 'जरा सी दिल में दे जगह...' KK के निधन के बाद ट्विटर पर ट्रेंड हुए Emraan Hashmi, बिखर गई सुपरहिट जोड़ी

जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीप्रयागराज से लखनऊ दौड़कर पहुंची, नन्हीं एथलीट काजल को सीएम योगी ने किया सम्मानित******Highlightsप्रयागराज से दौड़कर लखनऊ पहुंची नन्ही धावक काजल को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को सम्मानित किया और उपहार में दौड़ने के लिए जूते भी दिए। काजल के प्रयागराज से लखनऊ तक के 200 किलोमीटर के इस सफर को मुख्यमंत्री ने सम्मानित कर और यादगार बना दिया। एथलीट बनने का सपना रखने वाली काजल को मुख्यमंत्री से दौड़ने के लिए जूते भी उपहार में मिले।एक सरकारी बयान के मुताबिक जनपद प्रयागराज के मांडा थाना क्षेत्र के ललितपर गांव निवासी नीरज कुमार निषाद की 10 वर्षीय पुत्री काजल निषाद कक्षा चार की छात्रा है। काजल ने प्रयागराज में एक स्थानीय खेल स्पर्धा में भाग लिया था और दौड़ को पूरा किया था। लेकिन कार्यक्रम में उचित सम्मान ना मिल पाने के कारण काजल काफी निराश हो गई थी। इसी बात को लेकर काजल ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर उनसे मिलने की इच्छा जाहिर की थी, जिसके लिए काजल 10 अप्रैल को प्रयागराज से लखनऊ के लिए पैदल ही निकल पड़ी।प्रयागराज से लखनऊ तक का करीब 200 किलोमीटर लंबा सफर काजल ने 15 अप्रैल को पूरा किया और सीधे मुख्यमंत्री से मिलने 5 कालीदास मार्ग पर पहुंची। काजल की इस लगन और समर्पण को देखते हुए मुख्यमंत्री ने उसे सम्मानित किया और साथ ही साथ उसे आगे भी इसी तरह दौड़ में एक नया मुकाम हासिल करने के लिए प्रेरित करते हुए जूते, ट्रैक सूट और खेल किट भी उपहार में दिया।इस उपहार के लिए काजल ने मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया। इसके साथ ही बाबू बनारसी दास खेल अकादमी ने काजल की प्रतिभा का सम्मान करते हुए उसकी आगे की तैयारी के लिए उम्र भर खेल किट और जूते देने की जिम्मेदारी ली है।

जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीIPL 2020 : दिल्ली के खिलाफ छोटी पारी खेलकर भी शेन वाटसन ने हासिल की यह बड़ी उपलब्धि******चेन्नई सुपरकिंग्स के स्टार खिलाड़ी और साल 2018 में टीम को चैंपियन बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले शेन वाटशन ने एक बड़ी उपलब्धि नाम कर लिया है। दिल्ली के खिलाफ 10 रन बनाते ही वाटसन सीएसके के लिए खेलते हुए अपने 1000 रन पूरे कर लिए।हालांकि इस मुकाबले में वाटशन टीम के लिए अधिक अधिक रन नहीं पाए और 16 गेंद में महज 14 रन बनाकर आउट हो गए।वाटसन पिछले कुछ सालों से सीएसके के लिए एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी बनकर उभरे हैं। इसके साथ ही टीम ने भी लगातार उनपर अपना भरोसा जताया है। यही कारण है कि वे लगातार इस टीम के लिए खेलते हुए नजर आ रहे हैं।वाटसन का आईपीएल करियर काफी आकर्षक रहा है। वह इस लीग में अब में अबतक 137 मैच खेल खेल चुके हैं। इस दौरान उन्होंने 30.72 की औसत से 3626 रन बनाए हैं।इसके अलावा उन्होंने इस लीग में चार बार शतकीय पारी खेली है जबकि 19 पर उन्होंने पचासा जड़ा है। इस टूर्नामेंट में उनका सार्वधिक स्कोर नाबाद 117 रनों का है।बल्लेबाजी के अलावा वाटसन ने गेंदबाजी में अलग-अलग फ्रेंचाइजी के लिए खेलते हुए अपना अहम योगदान दिया है।गेंदबाजी के दौरान वाटसन ने कुल 92 विकेट लिए हैं। गेंदबाजी में वाटशन का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन 29 रन देकर चार विकेट का है।जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीसुप्रीम कोर्ट ने यूनिटेक को दिया बड़ा झटका, फ्लैट खरीदारों को देना होगा 14 फीसदी की दर से 7 साल का ब्याज******सुप्रीम कोर्ट ने यूनिटेक लिमिटेड को बड़ा झटका देते हुए दिया है। कोर्ट ने कंपनी से 39 फ्लैट खरीदारों द्वारा जमा कराई गई 16.55 करोड़ रुपए की मूल राशि पर 14 फीसदी की दर से ब्याज जमा करने का आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा कि मूल राशि पर ब्याज की गणना एक जनवरी, 2010 से की जाएगी।जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस ए एम खानविलकर और जस्टिस मोहन एमशांतानागौदर ने यूनिटेक से आठ सप्ताह में ब्याज की राशि जमा कराने को कहा। रजिस्ट्री की 90 प्रतिशत राशि 39 आवास खरीदारों को वितरित करने को कहा।

जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीदांव पर लगी है महाराष्ट्र के इन छह नेताओं की साख, जानिए- किससे है मुकाबला?****** में कई दिग्गजों की साख दांव पर लगी है। से लेकर शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे और कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण के लिए यह चुनाव साख का सवाल बना हुआ है। हालांकि, ऐसी स्थिति में सिर्फ यह तीनों ही नहीं हैं बल्कि इनके अलावा भी तीन और नेता यानी कि कुल छह नेता हैं जिनके लिए यह चुनाव साख का सवाल बन गया है।महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस नागपुर साउथ वेस्ट विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। फडणवीस के सामने उनकी सीट जीतने के साथ-साथ सरकार में बने रहने के लिए भाजपा-शिवसेना गठबंधन की जीत भी सुनिश्चित करने की चुनौती है। नागपुर साउथ वेस्ट विधानसभा सीट से फडणवीस के सामने कांग्रेस के आशीष देशमुख हैं।मुंबई शहर की वर्ली सीट पर पूरे देश की नजर है। दरअसल, यहां से शिवसेना ने बालासाहेब के पोते आदित्य ठाकरे चुनाव मैदान में हैं। यहां आदित्य ठाकरे का मुकाबला एनसीपी के सुरेश माने से है। बता दें कि वर्ली को शिवसेना के गढ़ के रूप में पहचाना जाता है। ऐसे में आदित्य ठाकरे के सामने काशिवसेना यह किला बचाने की भी चुनौती है।बीजेपी ने दिवंगत नेता गोपीनाथ मुंडे की बेटी पंकजा मुंडे को परली विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में उतारा है। गोपीनाथ मुंडे की राजनीतिक विरासत को आगे बढ़ाने वाली उनकी बेटी पंकजा के सामने इस सीट पर उनके भतीजे और कांग्रेस उम्मीदवार धनंजय मुंडे हैं। यह चुनावी जंग पंकजा मुंडे के लिए साख की जंग बन गई है।राज्य के पूर्व उपमुख्यमंत्री और NCP प्रमुख शरद पवार के भतीजे अजित पवार बारामती विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में हैं। अजित पवार लगातार साल 1995 से इस सीट से जीतते आ रहे हैं। अब ऐसे में उनके सामने अपनी सीट पर जीत कायम रखने की चुनौती है। ऐसे में भाजपी ने शरद पवार परिवार के गढ़ में सेंध मारने के लिए इस बार प्रकाश आंबेडकर की वंचित बहुजन अघाड़ी से पाला बदलकर BJP ने शामिल होने वाले गोपीचंद पडलकर को चुनावी मैदान में उतारा है।कांग्रेस ने पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण को भोकर विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाया है। चव्हाण परिवार का महाराष्ट्र की राजनीति में गहरी पकड़ है। अशोक चव्हाण के साथ-साथ उनके पिता भी राज्य के दो बार मुख्यमंत्री रह थे। अब ऐसे में अशोक चव्हाण के लिए उनकी सीट बचाना एक साख का सवाल ही है।कांग्रेस के सीनियर नेता, मौजूदा विधायक और पूर्व सीएम पृथ्वीराज चव्हाण कराड दक्षिण विधानसभा क्षेत्र से चुनावी मैदान में हैं। उनके सामने भाजपा के अतुल बाबा सुरेश भोसले हैं। बता दें कि वर्ष 2014 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के पृथ्वीराज चव्हाण ने निकटतम प्रतिद्वंदी निर्दलीय उम्मीदवार विलासराव पाटिल को 16,418 वोटों से हराया था। ऐसे में उनके सामने इस प्रदर्शन को बरकरार रखने की चुनौती है।जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीदिल्ली में कोविड-19 के 41 नए मामले, NCDC में सीक्वेंस किये गए नमूनों में से 95 प्रतिशत में डेल्टा वेरिएंट******Highlights दिल्ली में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस से किसी मरीज की मौत नहीं हुई। वहीं, संक्रमण के 41 नए मरीज मिले तथा संक्रमण दर 0.06 फीसदी दर्ज की गई। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग की ओर से साझा किए गए आंकड़ों के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के कुल मामले 14,41,190 हो गए हैं जबकि अबतक 14.15 लाख से अधिक लोग संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं।बुलेटिन के मुताबिक, आईसीएमआर-एनआईसीपीआर नोएडा ने गत हफ्तों से संबंधित 176 मामले बुधवार को आईसीएमआर पोर्टल पर जोड़े हैं। दिल्ली में संक्रमण के कारण अबतक 25,098 लोगों की मौत हो चुकी है। आंकड़ों के मुताबिक, नवंबर में के कारण सात लोगों की मौत हुई है जो पिछले महीने में राष्ट्रीय राजधानी में सबसे ज्यादा है। दिल्ली में अक्टूबर में कोरोना वायरस की वजह से चार और सितंबर में पांच लोगों की जान गई थी।स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, बृहस्पतिवार को संक्रमण दर 0.06 प्रतिशत दर्ज की गई है। दिल्ली में बुधवार को कोरोना वायरस के 39 नए मामले आए थे तथा मंगलवार को 34 मरीजों की पुष्टि हुई थी। इन दोनों ही दिन संक्रमण दर 0.07 प्रतिशत दर्ज की गई थी। बुलेटिन में बताया गया है कि एक दिन पहले 63,194 नमूनों की जांच की गई है।राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) में पिछले छह महीने में सीक्वेंस किये गए दिल्ली के 95 प्रतिशत नमूनों में कोरोना वायरस का डेल्टा वेरिएंट पाया गया। सरकारी आंकड़ों में यह जानकारी सामने आई। कोविड-19 महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक दिल्ली ने 7,281 नमूने जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए एनसीडीसी भेजे थे।सरकारी आंकड़ों में पता चला कि नवंबर में सीक्वेंस किये गए नमूनों में से 96 प्रतिशत में डेल्टा प्रकार था। कोरोना वायरस का यह तेजी से फैलने वाला प्रकार भारत में माहमारी की दूसरी घातक लहर के लिए जिम्मेदार था। आंकड़ों के अनुसार, अक्टूबर के नमूनों में से 99 प्रतिशत में और सितंबर के नमूनों में से 98 प्रतिशत में वायरस का यह प्रकार पाया गया।

जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीदिल्ली दंगे: अदालत ने उमर खालिद की न्यायिक हिरासत 14 दिन बढ़ाई****** दिल्ली की एक अदालत ने शहर के उत्तर पूर्वी हिस्से में फरवरी में हुए सांप्रदायिक दंगों के मामले में जेएनयू के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद की न्यायिक हिरासत बुधवार को 14 दिन के लिए बढ़ा दी। अदालत ने खालिद को हिरासत को और बढ़ाने का आग्रह करने वाली पुलिस की याचिका का विरोध करने का मौका देने से इनकार कर दिया। अदालत ने कहा कि अगर आरोपी के वकील को लगता है कि उसे और हिरासत में रखने की जरूरत नहीं है तो वह जमानत की अर्जी दायर कर सकता है, जिसे अदालत सुन सकती है।मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट दिनेश कुमार ने कहा कि फिर से गिरफ्तार करने के समय आरोपी और उसका वकील मुल्ज़िम को न्यायिक या पुलिस हिरासत में भेजे जाने के जांच अधिकारी के आवेदन का विरोध कर सकते हैं। अदालत ने खालिद की न्यायिक हिरासत की अवधि 16 दिसंबर तक बढ़ा दी और कहा कि हिरासत बढ़ाने के लिए पर्याप्त आधार हैं। अदालत ने के वकील के उस आग्रह को खारिज कर दिया, जिसमें हिरासत आवेदन का विरोध करने की इजाजत मांगी गई थी, क्योंकि अदालत के समक्ष जमानत की कोई अर्जी दायर नहीं की गई है। ने कहा कि आरोपी के वकील को सुनने और जब भी हिरासत बढ़ाई जानी है तब उन्हें हिरासत आवेदन का विरोध करने का मौका देने की गुंजाइश नहीं है। मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने अपने आदेश में कहा, “ इस बात में कोई संदेह नहीं है कि किसी आरोपी की हिरासत को ऐसे ही नहीं बढ़ाना चाहिए। खालिद को खजूरी खास इलाके में दंगों के संबंध में एक अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था। उसे दंगों की कथित “बड़ी साजिश“ से संबंधित मामले में सितंबर में गिरफ्तार किया गया था।बता दें कि, उत्तर पूर्वी दिल्ली में फरवरी 2020 के अंत में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के समर्थकों और विरोधियों के बीच हुई झड़पों ने का रूप ले लिया था, जिनमें 53 लोगों की मौत हुई है और सैकड़ों जख्मी हुए थे।जरासीदिलमेंदेजगहKKकेनिधनकेबादट्विटरपरट्रेंडहुएEmraanHashmiबिखरगईसुपरहिटजोड़ीFATF ने भारत की वित्तीय अपराधों पर रोकथाम की व्यवस्था की समीक्षा 2021 तक टाली******नई दिल्ली। वित्तीय कार्रवाई कार्य बल (एफएटीएफ) ने कोरोना वायरस महामारी के चलते भारत में धन शोधन रोधी और वित्तीय अपराधों की रोकथाम के लिए कानूनी प्रावधानों की इस साल प्रस्तावित समीक्षा को अगले साल तक के लिए टाल दिया है। अधिकारियों ने बताया कि एफएटीएफ के विशेषज्ञ इस संबंध में सितंबर-अक्टूबर में मौके पर समीक्षा करने वाले थे, लेकिन पेरिस स्थित वैश्विक निकाय के सचिवालय ने भारत को बताया है कि समीक्षा को अगले साल जनवरी-फरवरी तक टाला जा रहा है। एफएटीएफ वैश्विक स्तर पर धन शोधन और आतंकी वित्तपोषण की रोकथाम के मामलों की निगरानी करती है। संस्था दुनिया के देशों में आर्थिक और वित्तीय माध्यमों में अवैध गतिविधियों को रोकने के लिए अंतरराष्ट्रीय मानकों को तय करती है साथ ही उसके दुनियाभर में आंतरिक तौर पर जुड़े संपर्क सूत्रों पर भी गौर करती है।एफएटीएफ वित्तीय प्रणाली के आपराधिक दुरुपयोग को रोकने के लिए प्रत्येक देश की प्रणाली की गहन समीक्षा और विश्लेषण करता है। भारत की धन शोधन यानी मनी लांड्रिंग और आतंकी वित्त पोषण रोधी व्यवस्था की समीक्षा 10 साल बाद एक नियमित प्रक्रिया के तहत की जानी थी। धन शोधन रोधी एजेंसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ऐसी आखिरी समीक्षा जून 2010 में की गई थी। केंद्रीय वित्त मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि एफएटीएफ समीक्षा के लिए सभी तैयारियां लगभग पूरी हो गईं थीं, हालांकि, इसके बाद कोविड-19 का प्रकोप शुरू हो गया। उन्होंने बताया, ‘‘हमें एफएटीएफ ने बताया है कि उसने कोरोना वायरस महामारी के कारण इस वर्ष के लिए तय कई देशों के समीक्षा कार्यक्रम को स्थगित कर दिया है, जिसमें भारत भी शामिल है। उम्मीद है कि नई तारीखें अगले साल की शुरुआत में होंगी।’’ एफएटीएफ ने भी इस संबंध में सार्वजनिक घोषणा की है।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-07 15:19
उद्धरण 1 इमारत
2019 में कौन बनेगा प्रधानमंत्री? बीजेपी-कांग्रेस में जोरदार टक्कर, इंडिया टीवी पर LIVE******2019 का चुनावी महाभारत शुरू हो चुका है और राजनीतिक बयानबाजियां जोर पकड़ने लगी हैं। जहां एक तरफ विपक्षी एकता है तो दूसरी ओर । एक तरफ राहुल गांधी, अखिलेश, तेजस्वी, ममता, मायावती...सब एक साथ हाथों हाथ डाले खड़े हैं तो दूसरी तरफ पीएम मोदी का चेहरा और शाह की सियासी रणनीति है। सिर्फ ग्यारह महीने बाकी रह गए हैं। कर्नाटक में सरकार बनाकर...और कैराना की सीट जीतकर महागठबंधन के हौसले जहां बुलंद हैं। वहीं बीजेपी के खेमे में चिंता की लकीरें थोड़ी बढ़ सी गईं हैं। क्योंकि जिस मोदी लहर ने 2014 में सभी पार्टियों को साफ कर दिया, बीते चार साल के उपचुनाव में उसकी चमक थोड़ी फीकी पड़ती दिख रही हैं।तो क्या महागठबंधन की महाचुनौती को 2019 चुनावी महाभारत में मोदी और शाह की जुगलबंदी पार कर पाएगी? इंडिया टीवी पर आज इसी मुद्दे पर चर्चा में हिस्सा ले रहे हैं...बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा, कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी और समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता उदयवीर सिंह.. देखिए लाइवआपको बता दें कि केन्द्र में सत्तारूढ़ भाजपा को आज एक करारा झटका देते हुए विपक्षी पार्टियों ने लोकसभा और विधानसभा की 14 सीटों के उपचुनावों में 11 सीटों पर जीत दर्ज की जबकि भगवा पार्टी तथा उसके सहयोगियों को केवल तीन सीटों तक ही सीमित कर दिया। विपक्षी एकजुटता के कारण भाजपा ने उत्तर प्रदेश की चर्चित कैराना लोकसभा सीट को भी गंवा दिया।विपक्षी नेताओं ने दावा किया कि परिणामों से पता चलता है कि 11 राज्यों में केन्द्र की मोदी सरकार की लोकप्रियता में गिरावट आई है तो वहीं भाजपा ने कहा कि पीएम - ‘ पी ’ परफोरमेंस (कामकाज) और ‘ एम ’ मेहनत (कड़ी मेहनत) अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव का निर्णय करेंगे।सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा के लिए सबसे बड़ा झटका 10 विधानसभा सीटों के उपचुनाव के परिणाम है जहां वह केवल एक ही सीट (उत्तराखंड) में जीत सकी। कांग्रेस ने तीन सीटें (मेघालय , कर्नाटक और पंजाब) जीती जबकि छह सीटों पर अन्य पार्टियों ने जीत दर्ज की जिनमें से झामुमो ने झारखंड में दो सीटें , माकपा , सपा , राजद और तृणमूल ने एक - एक सीट क्रमश : केरल , उत्तर प्रदेश , बिहार और पश्चिम बंगाल में जीतीं।
2022-10-07 15:12
उद्धरण 2 इमारत
IPL 2020, KKR vs RR : गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन से KKR ने राजस्थान को 37 रन से हराया, सीजन-13 में दर्ज की दूसरी जीत******शुभमन गिल की बल्लेबाजी के बाद युवा गेंदबाजों की तिकड़ी के शानदार प्रदर्शन की मदद से कोलकाता नाइट राइडर्स ने इंडियन प्रीमियर लीग के एकतरफा मुकाबले में बुधवार को राजस्थान रॉयल्स को 37 रन से हरा दिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए केकेआर ने गिल के 47 रन की मदद से छह विकेट पर 174 रन बनाये। जवाब में रॉयल्स की टीम नौ विकेट पर 137 रन ही बना सकी। संकट के समय में सभी की नजरें पिछले मैच में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ बल्ले से चमत्कार करने वाले राहुल तेवतिया पर थी लेकिन वह अपने प्रदर्शन को दोहरा नहीं सके।टॉम कुरेन 36 गेंद में दो चौकों और तीन छक्कों के साथ 54 रन बनाकर नाबाद रहे। केकेआर के लिये युवा भारतीय गेंदबाज शिवम मावी , कमलेश नागरकोटी और वरूण चक्रवर्ती ने दो दो विकेट चटकाये। रॉयल्स के लिये कोई भी बड़ी साझेदारी नहीं बन सकी और उसकी शुरूआत भी बेहद खराब रही। दूसरे ही ओवर में आईपीएल के सबसे महंगे विदेशी खिलाड़ी पैट कमिंस ने कप्तान स्टीव स्मिथ (तीन) को पवेलियन भेज दिया।मावी ने पांचवें ओवर की पहली ही गेंद पर शानदार फॉर्म में चल रहे संजू सैमसन का विकेट लेकर रॉयल्स को सबसे तगड़ा झटका दिया। सलामी बल्लेबाज जोस बटलर (21) मावी का दूसरा शिकार बने। रॉबिन उथप्पा का खराब फॉर्म जारी रहा जो दो रन बनाकर नागरकोटी की गेंद पर मावी को कैच दे बैठे।वहीं रियान पराग (एक) लगातार दूसरी बार विफल हुए जिनका कैच नागरकोटी की गेंद पर गिल ने लपका। पंजाब के खिलाफ एक ओवर में पांच छक्के लगाने वाले तेवतिया पर सभी की नजरें थी और उन्होंने अपनी नागकरकोटी को एक छक्का भी जड़ा लेकिन लेकिन 10 गेंदों में 14 रन बनाकर वरूण चक्रवर्ती की गेंद पर बोल्ड हो गए। वरूण ने जोफ्रा आर्चर को दूसरा शिकार बनाया। पुछल्ले बल्लेबाजों से किसी चमत्कार की उम्मीद करना बेमानी था।इससे पहले रॉयल्स के लिये आर्चर ने 18 रन देकर दो विकेट लिये और टूर्नामेंट की सबसे तेज गेंद (152 .1 किमी प्रति घंटा) डाली। उन्होंने फॉर्म में चल रहे सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल (34 गेंद में 47 रन) और कप्तान दिनेश कार्तिक (एक) को आउट करके टॉस जीतकर फील्डिंग के फैसले को सही साबित कर दिया।आक्रामक बल्लेबाज आंद्रे रसेल भी टिक नहीं सके जिन्होंने 14 गेंद में 24 रन बनाये। इंग्लैंड के विश्व कप विजेता कप्तान इयोन मोर्गन 23 गेंद में 34 रन बनाकर अंत तक डटे रहे। आर्चर ने मैच का पहला ओवर ही काफी आक्रामक डाला। गिल ने संभलकर खेलते हुए उसमें विकेट नहीं गिरने दी हालांकि इस ओवर में एक ही रन बना। गिल लगातार दूसरे अर्धशतक की ओर बढ रहे थे लेकिन आर्चर ने 12वें ओवर में फिर आकर उन्हें आउट किया। अगले ओवर में आर्चर ने कार्तिक को पवेलियन भेजा। उनकी खूबसूरत इवस्विंगर पर चकमा खाने वाले कार्तिक ने जोस बटलर को आसान कैच थमाया।रसेल को आखिरकार बल्लेबाजी क्रम में ऊपर पांचवें नंबर पर भेजा गया जो अंकित राजपूत की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में आउट हुए। केकेआर ने 33 रन के भीतर चार विकेट गंवा दिये। चूंकि केकेआर एक अतिरिक्त गेंदबाज के साथ उतरी थी तो रन बनाने की पूरी जिम्मेदारी मोर्गन पर आन पड़ी थी।
2022-10-07 15:04
उद्धरण 3 इमारत
सुप्रीम कोर्ट ने यूनिटेक को दिया बड़ा झटका, फ्लैट खरीदारों को देना होगा 14 फीसदी की दर से 7 साल का ब्याज******सुप्रीम कोर्ट ने यूनिटेक लिमिटेड को बड़ा झटका देते हुए दिया है। कोर्ट ने कंपनी से 39 फ्लैट खरीदारों द्वारा जमा कराई गई 16.55 करोड़ रुपए की मूल राशि पर 14 फीसदी की दर से ब्याज जमा करने का आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा कि मूल राशि पर ब्याज की गणना एक जनवरी, 2010 से की जाएगी।जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस ए एम खानविलकर और जस्टिस मोहन एमशांतानागौदर ने यूनिटेक से आठ सप्ताह में ब्याज की राशि जमा कराने को कहा। रजिस्ट्री की 90 प्रतिशत राशि 39 आवास खरीदारों को वितरित करने को कहा।
वापसी